Home नरेंद्र मोदी विशेष ‘परीक्षा पर चर्चा’ में प्रधानमंत्री मोदी ने सुनाई इस खिलाड़ी के हौसले...

‘परीक्षा पर चर्चा’ में प्रधानमंत्री मोदी ने सुनाई इस खिलाड़ी के हौसले की कहानी

345
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में आयोजित ‘परीक्षा पर चर्चा’ कार्यक्रम में छात्रों से कहा कि परीक्षा के समय इस भाव के साथ बैठिए कि आप ही अपना भविष्य तय करेंगे। उन्होंने कहा कि, ‘जीवन में आगे बढ़ने के लिए सही कुशलता और सच्ची लगन के साथ आत्मविश्वास भी बहुत जरूरी है। इसके बिना मेहनत प्रभावी नहीं होगा। आत्मविश्वास न हो तो देवता भी कुछ नहीं कर सकते। आप खुद के परीक्षक हो, ऐसा सोचकर परीक्षा में बैठो। खुद को कम मत आंको।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘परीक्षा पर चर्चा’ के दौरान छात्रों को कनाडा के एक ऐसे खिलाड़ी की कहानी सुनाई जिसे देखकर उनको भी हैरानी हुई। उन्होंने विंटर ओलंपिक में भाग लेने वाले मार्क मैकमॉरिस के बारे में बताया। जिसने कोमा से निकलकर स्नोबोर्ड के स्लोप स्टाइल इवेंट में ब्रॉन्ज मेडल जीता है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, ‘अभी साउथ कोरिया में विंटर ओलिंपिक चल रहे हैं। इसमें कनाडा का एक खिलाड़ी खेल रहा है। वो स्नोबोर्ड में ब्रॉन्ज मेडल लाया, लेकिन अभ्यास के दौरान उसे गंभीर चोट लगी। वो अस्पताल में पड़ा था, लेकिन चार-पांच दिन पहले उसने मेडल जीता। उसने अपने फेसबुक पर दो फोटो अपलोड की। एक में अस्पताल की फोटो और दूसरी में मेडल जीतने की। उसकी तस्वीर का कैप्शन है ‘धन्यवाद ज़िंदगी’। कहने का तात्पर्य ये है कि आत्मविश्वास हर पल प्रयासों से आता है। हमें खुद का निरीक्षण करना होगा।’

कनाडा के मार्क मैकमॉरिस की 11 महीने पहले एक हादसे में 17 हड्डियां टूट गई थीं। जिसके बाद वो कोमा में चले गए थे। मार्क की पसलियां, जबड़ा, बाएं फेफड़े समेत कई हिस्से फ्रैक्चर हुए थे, लेकिन 11 महीने बाद उन्होंने विंटर ओलंपिक में हिस्सा लिया और शानदार प्रदर्शन करते हुए ब्रॉन्ज मेडल जीतकर सभी को हैरान कर दिया। मेडल जीतने के बाद मार्क ने ट्विटर पर दो फोटो डालीं और लिखा- ‘धन्यवाद जिंदगी।’

LEAVE A REPLY