Home समाचार गांव, गरीब, किसान और देश के विकास को सुनिश्चित करेगा यह बजट

गांव, गरीब, किसान और देश के विकास को सुनिश्चित करेगा यह बजट

1272
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि इस बार का बजट गांव, गरीब, किसान, दलित, वंचित और महिलाओं की आकांक्षाओं को पूरा करेगा। इसके साथ ही यह रोजगार सृजन करने, पारदर्शिता लाने के साथ ग्रामीण और शहरी इलाकों का विकास सुनिश्चित करने वाला साबित होगा।

बुधवार को लोकसभा में वित्त मंत्री अरुण जेटली की ओर से पेश बजट के बारे में पीएम मोदी ने कहा कि यह हमारे भविष्य का बजट है, नई पीढ़ी का बजट है, किसानों का बजट है, शहरी और ग्रामीण विकास और उद्यमिता को आगे बढ़ाने वाला बजट है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि यह देश का तीव्र विकास सुनिश्चत करेगा, रोजगार के नये अवसर पैदा करेगा और किसानों की आय को दोगुना करेगा। इससे गांव की स्थिति में बहुत बड़ा बदलाव आयेगा, गांव के लोगों की जीवन शैली में बदलाव आयेगा और उनकी वित्तीय स्थिति भी बदलेगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ये एक ऐसा बजट है जो गरीब को सशक्‍त बनाएगा बुनियादी ढॉंचे को और मजबूत भी बनाएगा, गति भी देगा हर किसी की उम्‍मीदों को अवसर देगा, अर्थ तंत्र को एक नई ताकत देगा, नई मजबूती देगा और विकास को बहुत तेजी देगा। इस बजट में हाइवे भी बने आइवे भी बढ़े, दाल के दाम से लेकर डेटा की स्‍पीड तक, शिक्षा से लेकर के स्‍वास्‍थ्‍य तक, उद्यमी से लेकर उद्योग तक, टेक्सटाइल से ले करके टैक्स डिडक्शन तक हर किसी के सपने को साकार करने का ठोस कदम इस बजट में साफ-साफ नजर आता है।

पीएम मोदी ने कहा कि ये बजट देश के विकास के लिए पिछले ढाई वर्ष में जो कदम उठाए गए, जो फैसले लिए गए और भविष्‍य में और मजबूती के साथ आगे बढ़ने के इरादों के बीच ये एक बहुत महत्‍तवपूर्ण कड़ी है। इस बजट को मैं देख रहा हूँ, एक अन्‍य महत्‍तवपूर्ण कदम है कि रेलवे बजट को आम बजट में मिला दिया गया है।

उन्होंने कहा कि ये बजट कृषि क्षेत्र, ग्रामीण क्षेत्र, सामाजिक कल्‍याण, इन्फ्रास्ट्रक्चर इन सभी क्षेत्रों में एक विशेष ध्‍यान आकर्षित करता है। निवेश बढ़ाने और रोजगार के नये अवसर पैदा करने की दृष्टि से सरकार की जो प्रतिबद्धता है वह इस बजट में साफ-साफ नजर आती है। इन योजनाओं के लिए आवंटन में भी बहुत बढ़ोत्‍तरी की गयी है, सरकारी निवेश को मजबूती देने के लिए रोड और रेल सेक्‍टर के लिए भी आवंटन में काफी वृद्धि की गयी है। सरकार का लक्ष्‍य 2022 तक हमारे देश के किसानों की आय डबल करने का इरादा है, दोगुना करना है नीतियॉं एवं योजनाएं उसी प्रकार से तय की गयी हैं, बजट में सबसे ज्‍यादा जोर इस बार भी किसान, गॉंव, गरीब, दलित, पीडि़त, शोषित उनपर केंद्रित किया है।

प्रधानमंत्री ने कहा है कि बजट में रोजगार बढ़ाने पर भी भर पूर जोश दिया गया है नौकरी के लिए नए- नए अवसर पैदा करने वाले सेक्‍टर इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग, टेक्सटाइल उसको विशेष राशि दी गयी है, असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों को, संगठित क्षेत्र में लाने के लिए भी व्‍यापक प्रावधान किए गए हैं। कौशल विकास बजट में काफी बढ़ोत्‍तरी की गयी है।

पीएम मोदी ने कहा कि बजट में महिला कल्‍याण पर भी विशेष ध्‍यान दिया गया है, महिलाओं और बच्‍चों से जुड़ी योजनाओं के लिए बजट में वृद्धि की गयी है, स्वास्‍थ्‍य और उच्‍च शिक्षा के लिए भी बजट में काफी बढोत्‍तरी की गयी है। आर्थिक विकास में तेजी लाने और रोजगार के नए अवसर बनाने में हाउसिंग और निर्माण सेक्टर इसकी बहुत बड़ी भूमिका है।

बजट में व्यक्तिगत इनकम टैक्स कम करने की घोषणा देश के मध्‍यम वर्ग को ज्‍यादा स्‍पर्श करती है, बड़ी महत्‍तवपूर्ण है। 10 प्रतिशत से एकदम 5 प्रतिशत कर देना बड़ा साहसपूर्ण निर्णय है। करीब-करीब हिन्‍दुस्‍तान के अधिकतम कर दाताओं को इससे बहुत बड़ा लाभ होने वाला है। आपने देखा होगा बजट में कालेधन और भ्रष्‍टाचार के खिलाफ मेरी लड़ाई निरंतर चल रही है। पॉलिटिकल फंडिंग की चर्चा हमारे देश में बहुत होती रही है, राजनीतिक दल हमेशा चर्चा के घेरे में रहे हैं, चुनाव के अंदर डोनेशन एकत्र करने की नयी योजना भी वित्‍तमंत्री जी ने देश की आशा और आकांक्षा और काले धन के खिलाफ अपनी लड़ाई के अनुरूप प्रस्‍तुत की है। देश के छोटे और मध्‍यम उद्योग नौकरी के नए अवसर पैदा करने के सबसे बड़े स्रोत हैं। सरकार ने छोटे-छोटे उद्योगों को और उसमें परिभाषा में बदलाव करके उनके दायरे को भी बढाया है और टैक्‍स को भी 30 प्रतिशत से घटा करके 25 प्रतिशत कर दिया है। यानि देश के उद्योग जगत के 90 प्रतिशत से ज्‍यादा लोग इसका लाभ ले पाएंगे।

उन्होंने कहा कि ये बजट देश के विकास के लिए एक मजबूत कदम है इस बजट से रोजगार के नए अवसर पैदा होगें संपूर्ण आर्थिक विकास में मदद मिलेगी किसानों की आमदनी बढ़ाने में ये पूरक होगा। बिना वित्‍तीय घाटा बढ़ाए देश के मध्‍यम वर्ग के पास उसकी खरीद शक्ति बढ़े उसके जेब में ज्‍यादा पैसे आएं। उस दिशा में प्रयास है, एक प्रकार से ये बजट हमारा देश जो बदल रहा है उसको और अधिक तेजी से बदलने का प्रयास एक प्रकार से हमारे स्‍वपनों से जुड़ा हुआ, हमारे संकल्‍पों से जुड़ा हुआ, ये बजट एक प्रकार से हमारा भविष्य है।

LEAVE A REPLY