Home विशेष अब पूरा होगा सस्ते घर का सपना, मिडिल क्‍लास को सस्ते होम...

अब पूरा होगा सस्ते घर का सपना, मिडिल क्‍लास को सस्ते होम लोन का तोहफा

2027
SHARE

घर खरीदने के बारे में सोच रहे लोगों के लिए एक अच्छी खबर है। आपके घर खरीदने का सपना पूरा करने के लिए केंद्र सरकार अब आपको सस्ता लोन दे रही है। केंद्र सरकार ने शहरों में रहने वाले मिडिल क्लास को सस्ती दर पर होम लोन देने का एलान कर बड़ा तोहफा दिया है। सरकार का यह तोहफा सालाना 18 लाख रुपए तक की आय वालों को मिलेगा।

शहरों में 12 लाख रुपए सालाना आमदनी वाले लोगों को 90 वर्ग मीटर तक के घर के लिए नौ लाख रुपए तक का लोन दिया जाएगा, जिस पर चार फीसदी ब्‍याज सब्सिडी दी जाएगी, जो करीब 2 लाख 35 हजार रुपए होगी। इसी तरह 12 से 18 लाख रुपए आमदनी वाले लोगों को 110 वर्ग मीटर तक के घर के लिए 12 लाख रुपए तक के लोन पर तीन प्रतिशत की सब्सिडी दी जाएगी, जो करीब 2 लाख 30 हजार रुपए होगी।

अगर आप नौ लाख रुपए होम लोन 20 साल के लिए लेते हैं तो उसपर आपको चार प्रतिशत की दर से सब्सिडी मिलेगी और उसे ईएमआई में 2062 रुपए कम देने पड़ेंगे। इसी तरह 12 लाख रुपए तक के होम लोन 20 साल के लिए लेने पर तीन फीसदी की सब्सिडी से ईएमआई में 2019 रुपए की कमी आएगी।

केंद्रीय शहरी विकास और आवास मंत्री एम वेंकैया नायडू ने इस बारे में बुधवार को एक दिशानिर्देश जारी किया। मंत्रालय के एक अधिकारी के अनुसार सरकार करीब 2.30 लाख रुपए की सब्सिडी की रकम एकमुश्त देगी। इससे लोन का मूलधन कम होगा और ईएमआई भी घट जाएगी। 9 लाख रुपए के लोन पर 2.35 लाख रुपए और 12 लाख रुपए के होम लोन पर 2.30 लाख रुपए की सब्सिडी मिलेगी।

अधिकारी के अनुसार अगर मौजूदा होम लोन 8.65 प्रतिशत ब्याज की दर से देखें तो चार फीसदी की सब्सिडी मिलने से ईएमआई 2,062 रुपए और तीन प्रतिशत सब्सिडी से 2,019 रुपए कम हो जाएगी।

खास बातें-

  • 12 लाख रुपए की सालाना आमदनी वालों को 90 वर्ग मीटर और 18 लाख रुपए की सालाना आमदनी वालों को 110 वर्गमीटर का मकान बनाने अथवा खरीदने पर ब्याज सब्सिडी का लाभ मिलेगा।
  • नौ लाख रुपए होम लोन लेने वाले को करीब 2.35 लाख रुपए की ब्याज सब्सिडी मिलेगी।
  • 12 लाख रुपए होम लोन लेने वाले को करीब 2.30 लाख रुपए की ब्याज सब्सिडी मिलेगी।
  • यह सुविधा सभी बैंकों से होम लोन लेने वालों पर लागू होगी।
  • कर्ज देने वाले 70 संस्थानों के समूह में 45 हाउसिंग फाइनेंस कंपनियां, 15 अनुसूचित बैंक, दो क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, एक सहकारी बैंक, चार स्माल बैंक, तीन गैर बैंकिंग फाइनेंस कंपनियां शामिल हैं।
  • बैकों और हाउसिंग फाइनैंस कंपनियों को प्रॉसेसिंग फीस भी नहीं देनी होगी।
  • इस साल एक जनवरी के बाद होम लोन लेने वाले ही इस स्कीम का लाभ उठा सकते हैं।

LEAVE A REPLY