Home नरेंद्र मोदी विशेष दुख को भूलें, सुख को भूलने न दें। शुभ का स्मरण करते...

दुख को भूलें, सुख को भूलने न दें। शुभ का स्मरण करते हुए नये साल में प्रवेश करें- पीएम मोदी

567
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने लोकप्रिय रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में देशवासियों से अच्छी यादों के साथ नये वर्ष में प्रवेश करने का आह्वान किया है। ‘मन की बात’ के 38वें संस्करण में लोगों से सकारात्मक सोच को आगे बढ़ाने की अपील की है। उनके अनुसार साल के अंत में पूरे वर्ष को लेखा-जोखा दोहराने की परंपरा बनी हुई है। लेकिन, अगर इसमें हम नकारात्मक चीजों को भुला कर सकारात्मकता के साथ आगे बढ़ें तो इससे समाज में एक अच्छा वातावरण बनाने में सहायता मिल सकती है।

अच्छा करने के लिए अच्छी चीजों को याद करें- पीएम मोदी
पीएम मोदी ने देशवासियों को संबोधित कर कहा है कि इस साल पॉजिटिव एनर्जी के साथ नये साल का स्वागत करें। उन्होंने कहा है कि, “बड़े-बूढ़े हमेशा कहा कहते हैं- दुख को भूलो और सुख को भूलने मत दो। दुख को भूलें, सुख को भूलने न दें। मुझे लगता है, इस बात को हमें प्रचारित करना चाहिए। हम भी 2018 में शुभ का स्मरण करते हुए, शुभ का संकल्प करते हुए प्रवेश करें।” पीएम के अनुसार साल के अंत में दुनिया भर में वर्ष भर का लेखा-जोखा किया जाता है, आने वाले साल के लिए योजनाएं बनाई जाती हैं। पीएम ने कहा कि, “हमारे यहां मीडिया में तो, बीते हुए साल की कई रोचक घटनाओं को फिर से एक बार पुनः स्मरण कराने का प्रयास होता है। उसमें पॉजिटिव भी होती हैं , निगेटिव भी होती हैं। लेकिन, क्या आपको नहीं लगता है कि 2018 में हम अच्छी चीजों को याद करके प्रवेश करें ?”

वर्ष के सकारात्मक अनुभवों को बांटने की अपील
पीएम मोदी ने लोगों को आह्वान किया है कि वह अपने साल भर के चुनिंदा अनुभवों को साझा करने का प्रयास करें। पीएम मोदी के शब्दों में, “मैं आप सबको एक सुझाव देता हूं कि आप सब 5-10 अच्छी बातें जो आपने सुनी हों, आपने देखी हों, आपने अनुभव की हों और जिसको अगर और लोग जानें तो उनमें भी एक शुभ-भाव पैदा हो। क्या आप इसमें योगदान दे सकते हैं ? क्या हम इस वर्ष के अपने जीवन के 5 पॉजिटिव एक्सपीरिएंस शेयर कर सकते हैं ? चाहे वह फोटो के माध्यम से हो, छोटी-सी कोई कहानी के रूप में हो, स्टोरी के रूप में हो, छोटे से वीडियो के रूप में हो। “

प्रधानमंत्री ने देशवासियों से कहा कि इस साल “2018 का स्वागत हमें एक शुभ-वातावरण में करना है। शुभ-स्मृतियों के साथ करना है। पॉजिटिव थिंकिंग के साथ करना है।” उन्होंने बताया के लोग अपने सकारात्मक अनुभवों को NarendraModi App, MyGov या सोशल मीडिया पर #PositiveIndia के साथ साझा कर सकते हैं। उनके अनुसार इस बार देशवासी पॉजिटिव वाइब जेनेरेट कर नए साल का स्वागत करेंगे और इस सामूहिक प्रयास का असर भी मिलकर देखेंगे।

LEAVE A REPLY