Home विपक्ष विशेष लालू की माल भाड़ा नीति से रेलवे को 30 हजार करोड़ का...

लालू की माल भाड़ा नीति से रेलवे को 30 हजार करोड़ का नुकसान

294
SHARE

पूर्व रेल मंत्री और आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद एक और जांच की जद में आ सकते हैं। इस बार उनपर माल भाड़े में दोहरी नीति अपनाने का आरोप हैं। भारतीय जनता पार्टी के सांसद निशिकांत दुबे ने आरोप लगाया है कि लालू यादव के कार्यकाल में इस नीति से देश को हजारों करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि इसमें बड़ा भ्रष्टाचार हुआ है जिसका खुलासा देश के सामने होना चाहिए। 

निशिकांत दुबे के आरोप
निशिकांत दुबे का आरोप है कि रेलवे मंत्री रहते हुए लालू प्रसाद ने माल भाड़े की दोहरी नीति अपनाई थी। इसके तहत घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उद्देश्यों के लिए सामानों के परिवहन के लिए अलग-अलग दरें निर्धारित की गईं थीं। लेकिन घरेलू प्रयोजनों के लिए इस्तेमाल होने वाले लौह अयस्क को 2008 में ओलंपिक की मेजबानी करने वाले चीन को निर्यात किया गया।

30 हजार करोड़ से अधिक नुकसान
निशिकांत दुबे ने शून्यकाल में कहा कहा कि सीएजी रिपोर्ट में 30 हजार करोड़ के नुकसान का अनुमान लगाया गया था। बावजूद इसके तत्कालीन रेल मंत्री ममता बनर्जी ने इस अनियमितता पर कोई कार्रवाई नहीं की।

Image result for दिनेश त्रिवेदी लालू यादव

रेलवे के साथ धोखा
निशिकांत दुबे ने आगे कहा कि रेल मंत्री रहे दिनेश त्रिवेदी ने तब कहा था, ”यह एक गंभीर विषय है और इस मामले में रेलवे को धोखा दिया गया है।” उन्होंने यह भी कहा था कि नुकसान तीस हजार करोड़ से कहीं ज्यादा है और इस मामले की सीबीआई जांच के लिए कहा गया है।

Image result for लालू रेल घोटाला

तेजी से हो जांच
निशिकांत दुबे ने कहा कि इस मामले की जांच धीमी है और मैं सरकार से इस मामले की जांच में तेजी करने का आग्रह करता हूं ताकि इस मामले को तर्कसंगत निष्कर्ष पर ले जाया जा सके। 

लालू ने देश का खजाना लूटा
लालू प्रसाद ने 2006 में मनमोहन सरकार में रेल मंत्री रहते हुए रांची और पुरी स्थित रेलवे के दो होटलों को लीज पर देने में भी घोटाला कर लिया। इस मामले में लालू, उनकी पत्नी राबड़ी देवी समेत 8 लोगों पर धारा 420 और 120बी के तहत केस दर्ज किया गया है। दरअसल रांची और पुरी के चाणक्य बीएनआर होटल रेलवे के हेरिटेज होटल थे। लेकिन लालू ने उसे अपने करीबियों को औने-पौने दामों में सौंप दिया। सबसे बड़ी बात है कि पूरा रेनोवेशन हो जाने के चलते उस का ऐतिहासिक महत्व भी खत्म किया जा चुका है।

950 करोड़ का चारा खा चुके हैं लालू
90 के दशक में जब लालू प्रसाद बिहार के मुख्यमंत्री थे तो उन्होंने बिहार की जनता के खून पसीने की कमाई लूट ली। 950 करोड़ चारा घोटाला के नाम से मशहूर इस स्कैम का डायरेक्ट कनेक्शन लालू प्रसाद से निकला और अदालत ने उन्हें सजा भी सुनाई है। सजायाफ्ता लालू प्रसाद चुनाव तो नहीं लड़ सकते, लेकिन भ्रष्टाचारियों और घोटालेबाजों की यह फैमिली सत्ता से दूर नहीं रहना चाहती। 

Image result for रेल माल भाड़ा

एनडीए सरकार में माल ढुलाई में वृद्धि
भारतीय रेलवे ने जुलाई में माल ढुलाई और यात्री यातायात में मजबूत बढ़ोतरी दर्ज की है। जुलाई में रेलवे ने 9.41 करोड़ टन माल ढुलाई हुई जो अब तक का रिकॉर्ड है। यह पिछले साल जुलाई की ढुलाई से 47.5 लाख टन ज्यादा है। पिछले साल जुलाई तक की समान अवधि की तुलना में इस साल जुलाई तक मालगाड़ी से स्टील ढुलाई में 25 फीसदी, लौह अयस्क ढुलाई में 12.71 फीसदी, सीमेंट ढुलाई में 15.11 फीसदी, कंटेनर में 10.31 फीसदी, पेट्रोलियम, तेल, स्नेहक ढुलाई में 6.83 फीसदी और अन्य जींसों की ढुलाई में 11 फीसदी की वृद्धि हुई है।

Image result for रेल यात्री

सफर करने वालों की संख्या बढ़ी
इस साल अप्रैल से 20 जुलाई तक 6.05 करोड़ लोगों ने ट्रेनों से सफर किया जो पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 2.41 फीसदी अधिक है। इस साल 20 जुलाई तक यात्रियों से कमाई 15,758 करोड़ रुपये रही जबकि पिछले साल इसी अवधि में यह 14,739 करोड़ रुपये रही थी।

LEAVE A REPLY