Home समाचार केजरीवाल का गुस्सा ईवीएम पर क्यों ?

केजरीवाल का गुस्सा ईवीएम पर क्यों ?

494
SHARE

क्या अरविंद केजरीवाल को अपना राजनीतिक भविष्य अंधकारमय दिख रहा है? दरअसल ये सवाल इसलिए उठ रहे हैं कि गोवा और पंजाब के चुनाव नतीजों के बाद इनका गुस्सा अब ईवीएम पर निकल रहा है। केजरीवाल आत्ममंथन करने के बजाय अपनी हार की वजह ईवीएम में गड़बड़ी को बता रहे हैं। जबकि चुनाव आयोग बार-बार इस बात को साफ कर चुका है कि ईवीएम में कोई गड़बड़ी नहीं हुई है। बावजूद इसके दिल्ली के सीएम केजरीवाल इवीएम में गड़बड़ी के मुद्दे को तूल दे रहे हैं। एमसीडी चुनाव बैलेट पेपर से करवाने की मांग पर वे अड़े हैं, जबकि चुनाव आयोग ने साफ कर दिया है कि चुनाव इवीएम से ही होंगे।

बहरहाल गोवा में अपना जनाधार बनाने में विफल रही आप के 39 में से 38 प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई थी। यानी वहां के 38 प्रत्याशियों को छह प्रतिशत मत भी नहीं मिले। वहीं पंजाब में भी 27 प्रत्याशी जमानत नहीं बचा सके थे। इतना ही नहीं यहां वोट प्रतिशत के मामले में भी आम आदमी पार्टी अकाली दल और बीजेपी के बाद तीसरे नंबर पर रही। जाहिर है जीत की उम्मीद लगाए बैठी ‘आप’ को करारा झटका लगा है। अब ईवीएम में गड़बड़ी का आरोप लगाकर अपनी नाकामियों को छिपा रही ‘आप’ और अरविंद केजरीवाल लोगों के निशाने पर हैं। खास तौर पर उनकी बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग पर जमकर तंज कसे जा रहे हैं। सोशल मीडिया पर हो रही ऐसी ही कुछ प्रतिक्रिया देखते हैं।

LEAVE A REPLY