Home समाचार शासन के विकेंद्रीकरण के अगुआ हैं प्रधानमंत्री मोदी, चौथी बार भी डीजीपी...

शासन के विकेंद्रीकरण के अगुआ हैं प्रधानमंत्री मोदी, चौथी बार भी डीजीपी सम्मेलन दिल्ली से बाहर

244
SHARE

शासन के विकेंद्रीकरण के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी लगातार पहल कर रहे हैं। केंद्र सरकार की योजनाओं और क्रियाकलापों में इसकी झलक देखने को मिलती है। देशभर के डीजीपी और आईजी स्तर के पुलिस अधिकारियों के राष्ट्रीय सम्मेलन में भी शासन के विकेंद्रीकरण की झलक मिलती है। श्री मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद इस तरह का सम्मेलन लगातार दिल्ली से बाहर ही हो रहा है। इस बार डीजीपी सम्मेलन मध्य प्रदेश के ग्वालियर में 7-8 जनवरी, 2018 तक हुआ। 

पहली बार 2014 में दिल्ली से बाहर गुवाहाटी में हुआ था डीजीपी सम्मेलन
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सत्ता में आने के बाद पहली बार डीजीपी स्तर के पुलिस अधिकारियों का सम्मेलन पूर्वोत्तर प्रदेश असम की राजधानी गुवाहाटी में 30 नवंबर 2014 को हुआ था। यहां पीएम ने पुलिस अधिकारियों को स्मार्ट बनने की सलाह दी थी। तब प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि ‘स्मार्ट (एसएमएआरटी) पुलिसिंग कहें तो ‘एस’ से मेरा तात्पर्य स्ट्रिक्ट कठोर लेकिन संवेदनशील, ‘एम’ से तात्पर्य मॉर्डन यानी आधुनिक एवं सचल, ‘ए’ से तात्पर्य अलर्ट यानी सतर्क और जवाबदेह, ‘आर’ से तात्पर्य रिलायबल यानी विश्वसनीय एवं प्रतिक्रियावादी और ‘टी’ से तात्पर्य टेक्नोसैवी यानी प्रौद्योगिकी का जानकार और दक्ष है।’

दूसरी बार 2015 में कच्छ के रण में हुआ था आईपीएस अधिकारियों का सम्मेलन
सत्ता का विकेन्द्रीकरण करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगुवाई मे पुलिस महानिदेशकों के तीन दिवसीय सम्मेलन दूसरी बार गुजरात के कच्छ के रण में हुआ था। कच्छ के रण के धोरदो में एक विशेष टेंट सिटी बनाया गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 18 दिसंबर, 2017 को सम्मेलन के उद्घाटन सत्र में भाग लेने आए थे। इस मौके पर उन्होंने एक वेबसाइट ‘इंडियन पुलिस इन सर्विस ऑफ द नेशन’ लांच की। इसके बाद प्रधानमंत्री अन्य प्रतिनिधियों के साथ व्हाइट रण का अवलोकन करने गए। वहां बीएसएफ ने ‘ऊंट शो’ का प्रदर्शन किया। प्रधानमंत्री ने व्हाइट रण में सूर्यास्त होते देखा और इसके बाद एक सांस्कृतिक कार्यक्रम का आनंद उठाया।

तीसरी बार डीजीपी सम्मेलन 26 नवंबर, 2016 को हैदराबाद में
राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पुलिस महानिदेशकों/पुलिस महानिरीक्षकों तथा केंद्रीय पुलिस संगठनों के प्रमुखों के तीन दिवसीय वार्षिक सम्मेलन 26 नवंबर 2016 को हैदराबाद में हुआ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सम्मेलन में शामिल हुए और सम्मेलन के दूसरे दिन डीजीपी अधिकारियों के साथ सुबह 5.30 बजे योगाभ्यास किया। इसके बाद उन्होंने सरदार पटेल की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। फिर सम्मेलन को संबोधित किया। इस सम्मेलन में सीमा-पार आतंकवाद, युवाओं को कट्टरपंथी बनाने और भारतीयों को आईएसआईएस जैसे पश्चिम एशियाई आतंकवादी संगठनों की तरफ आकर्षित करने की कोशिशों के अलावा विभिन्न पुलिस बलों में खाली पड़े पदों को भरने, पुलिस बलों में सुधार, नशीले पदार्थों की तस्करी और मानव तस्करी की समस्याओं पर भी सम्मेलन में चर्चा हुई।

LEAVE A REPLY