Home समाचार देश के लिए तन समर्पित, मन समर्पित, जीवन समर्पित-प्रधानमंत्री

देश के लिए तन समर्पित, मन समर्पित, जीवन समर्पित-प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुवाहाटी में एक जनसभा को संबोधित किया

372
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्र सरकार के तीन साल पूरे करने के अवसर पर गुवाहाटी में एक जनसभा को संबोधित किया। सरकार की उबलब्धियों को जनता के सामने रखते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र की सरकार जनभागीदारी से चल रही है और देश में निराशा का वातावरण अब पीछे छूट चुका है और उसकी जगह आशा का माहौल है। उन्होंने कहा कि 2022 तक वे ऐसा हिंदुस्तान बनाना चाहते हैं जो आधुनिक हो, युवाओं द्वारा संचालित और जहां श्रम का सम्मान होता हो। पीएम मोदी ने लोगों का समर्थन मिलने पर कहा कि इससे उनका उत्साह बढ़ता है। उन्होंने कहा कि देश की जनता के नाम ‘तन समर्पित, मन समर्पित और यह जीवन समर्पित’ के भाव के साथ आगे बढ़ रहे हैं।

Displaying DSC_7668.JPG

ईमानदारी का उत्सव मनाना चाहती है जनता
पीएम मोदी ने नोटबंदी के फैसले पर जनता का साथ मिलने पर खुशी जाहिर की और कहा कि देश की जनता ईमानदारी का उत्सव मनाना चाहती है। पीएम मोदी फेस्ट की शुरुआत दिल्ली में नहीं करने को लेकर कहा कि उनके लिए देश का हर कोना दिल्ली है।


किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य
पीएम मोदी ने कहा कि वे 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य लेकर चले हैं। जिसमें किसानों का सहयोग भी जरूरी है। उन्होंने कहा कि अगर देश का किसान सिंचाईं की आधुनिक तकनीक को अपना ले तो हर खेत को पानी का उनका सपना पूरा हो जाएगा।

Displaying DSC_7717.JPG

जनभागीदारी से चल रही सरकार
पीएम मोदी ने कहा कि सरकार चलाने में जनता का सहयोग आजादी के बाद पहली बार दिखा है। उन्होंने कहा कि 100 करोड़ देशवासी हर कदम पर साथ आ रहे हैं। पीएम ने कहा कि वह छोटे आदमी हैं और छोटे-छोटे आदमियों के लिए बड़े-बड़े काम करेंगे।

Displaying DSC_7751.JPG  जनता ने स्वच्छता अभियान को आंदोलन बना दिया
सरकार चलाने में जनभागीदारी का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘स्वच्छता अभियान को जनता ने आंदोलन बना लिया। मीडिया ने भी सहयोग किया। शुरुआत में विपक्ष आलोचना कर रहा था लेकिन बाद में सब साथ आ गए। 

Displaying DSC_7693.JPG

एक करोड़ लोगों ने गैस सब्सिडी छोड़ दी
पीएम ने बिना नाम लिए पिछली यूपीए सरकार पर हमला किया। उन्होंने कहा, ‘एक वक्त था जब देश की संसद में 9 सिलेंडर हो की 12 सिलेंडर हो, इस पर घंटों चर्चा होती थी। वह भी एक वक्त था, आज भी एक वक्त है। मैंने अपील की गैस सब्सिडी छोड़ने की तो एक करोड़ लोगों ने गैस सब्सिडी छोड़ दी।

Displaying DSC_7778.JPG

नोटबंदी पर जनता का साथ मिला
नोटबंदी का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह एक बड़ा कठोर निर्णय था। नोटबंदी के दौरान लोगों को भड़काने की कोशिश की गई। अगर सरकार के इरादे नेक नहीं होते तो कितनी भी ताकतवर सरकार भी ध्वस्त हो जाती। लेकिन सवा सौ करोड़ लोग हमारे साथ रहे।

Displaying DSC_7775.JPG देशवासियों के लिए तन-मन और जीवन समर्पित
पीएम मोदी ने कहा कि वह ‘तन समर्पित, मन समर्पित और यह जीवन समर्पित’ के भाव के साथ आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि लोग पूछते हैं कि इतनी दौड़भाग के बाद थकते नहीं हो क्या तो मैं कहता हूं कि सवा सौ करोड़ देशवासी मुझसे एक कदम आगे चलते हैं, मैं उनसे प्रेरणा लेता हूं।

Displaying DSC_7703.JPG

निराशा की जगह अब आशा ने ली
प्रधानमंत्री ने कहा कि अब लोगों में नई उम्मीद है। उन्होंने कहा, ‘एक वक्त था, सामान्य जीवन में निराशा व्याप्त थी। निराशा इस हद तक जड़ कर गई थी कि अब कुछ होने वाला नहीं है। लेकिन अब यह भाव खत्म हो चुका है और सबमें यह आशा जगी है कि कुछ जरूर होगा, अच्छा जरूर होगा, यह विश्वास जगा है लोगों में।

Displaying DSC_7618.JPG

सरकार की कार्यप्रणाली में आया बदलाव
पीएम मोदी ने कहा कि उनके कार्यकाल के दौरान सरकार की कार्यप्रणाली बदली है। उन्होंने कहा, एक वक्त था जब ठहराव ही ठहराव दिखाई देता था। लेकिन आज वह ठहराव खत्म हो चुका है। हर दिन नई योजना, हर दिन नया काम देश अनुभव कर रहा है। आज देश के लोग बदलाव देख रहे हैं और अब निराशा की जगह नई आशा ने ले ली है।

Displaying DSC_7745.JPG

कालेधन की नहीं जनधन और डिजिधन की चर्चा
प्रधानमंत्री ने कहा कि एक वक्त था जब देश में काले धन का कोहराम था लेकिन आज जनधन की चर्चा होती है…आने वाले वक्त में डिजिधन की चर्चा होगी।

बेनामी संपत्ति वाले रहें सावधान
प्रधानमंत्री ने कहा कि चोरी के पैसों से बड़े-बड़े बंगले बनाने वाले, बेनामी संपत्ति बनाने वालों के बेईमानी के पैसों को हम निकालकर रहेंगे। इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी लेकिन हर कीमत चुकाने को तैयार हूं क्योंकि मैं जनता से किया वादा पूरा करूंगा। उन्होंने कहा कि 1988 में भ्रष्टाचार के खिलाफ कानून बना लेकिन 28 साल तक नोटिफाई नहीं हुआ।

Displaying DSC_7790.JPG
इरादे नेक हो तो जनता साथ देती है
पीएम मोदी ने कहा कि जब सरकार के इरादे नेक हो तो लोगों का साथ भी मिलता है। उन्होंने कहा कि जब सवा सौ करोड़ देशवासी संकल्प कर लेते हैं और शासन प्रो-पीपल, प्रो-पुअर होता है तो जनता का भरोसा भी कई गुना बढ़ जाता है और काम सरल हो जाता है। नोटबंदी के दौरान 90 लाख से ज्यादा लोगों ने खुद को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से जोड़ दिया।

Displaying DSC_7768.JPG
डिजिटल क्रांति में भारत पीछे नहीं रहेगा
डिजिटल इंडिया और न्यू इंडिया का हवाला देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आज दुनिया के अंदर जो आईटी क्रांति आई उसमें हिंदुस्तान पीछे नहीं रह सकता। हमें इस टेक्नॉलजी का भरपूर फायदा उठाना था। हमने डिजिटल पेमेंट की व्यवस्था की, हर इंसान का मोबाइल फोन बैंकिंग व्यवस्था का हिस्सा बन गई। पेमेंट बैंक और डिजिटल बैंकिंग से बदलाव आया।

Displaying DSC_7669.JPG

ऑप्टिकल फाइबर के नेटवर्क पर काम जारी
ऑप्टिकल फाइबर के नेटवर्क की जरूरत थी लेकिन पिछली सरकारों ने यह नहीं किया। आज हमने 1 लाख से ज्यादा गांवों तक ऑप्टिकल फाइबर का नेटवर्क बिछा दिया।

Displaying DSC_7683.JPG

केंद्र सरकार ने दवाएं सस्ती कीं
पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने महंगी दवाइयों, स्टेंट, जेनरिक दवाइयों को सस्ता किया। लाख सवा लाख के स्टेंड 35 हजार के हो गए, हजारों में बिकने वाली दवाइयां सैकड़ों में बिकने लगी।

Displaying DSC_7762.JPG
ओबीसी कमीशन का गठन किया
पीएम मोदी ने कहा कि पिछड़े वर्ग के लोग कई सालों से ओबीसी कमीशन की मांग कर रहे थे। पिछली सरकारों ने निर्णय नहीं लिया, लेकिन हमने ये निर्णय कर लिया और कानून पारित कर लिया। पिछड़े वर्ग के लोगों के लिए हमने संवैधानिक व्यवस्था देने की कोशिश की है।

Displaying DSC_7723.JPG

क्रीमी लेयर का दायरा बढ़ाया
पीएम मोदी ने कहा ककि ओबीसी क्रीमी लेयर को छह लाख से बढ़कर आठ लाख करने का सरकार ने फैसला लिया है। इसके कारण इस बार जब एडमिशन के लिए जाएंगे उनको इसका लाभ मिलेगा। समाज के एक बड़े तबके को लाभ होगा।

LEAVE A REPLY