Home समाचार कांग्रेस की ‘टुच्ची’ राजनीति के निशाने पर सदी के महानायक

कांग्रेस की ‘टुच्ची’ राजनीति के निशाने पर सदी के महानायक

कांग्रेस की कुत्सित राजनीति पर एक रिपोर्ट

371
SHARE

एक जुलाई, 2017 का दिन भारतीय अर्थव्यवस्था के इतिहास का एक महत्वपूर्ण टर्निंग प्वाइंट साबित होने वाला है। 30 जून की आधी रात को राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री की मौजूदगी में संसद के सेट्रल हॉल में एक बार फिर वही दृश्य उभरकर आने वाला है जो 15 अगस्त, 1947 को देश के स्वतंत्रता के समय था। वह अंग्रेजी शासन की गुलामी से मुक्ति के अहसास की रात थी तो 30 जून की रात भारत में आर्थिक क्रांति की नई इबारत लिखने का वक्त होगा। लेकिन देश की बड़ी राजनीतिक पार्टी अपनी कुत्सित राजनीति पर उतर आई है। पूरी दुनिया भारत में आर्थिक क्रांति की तरफ टकटकी लगाए है लेकिन देश की राष्ट्रीय पार्टी कांग्रेस को जीएसटी रास नहीं आ रहा है। इस मुद्दे पर कांग्रेस अब किस कदर की ‘टुच्ची’ राजनीति करने लगी है इसकी बानगी तब दिखी जब कांग्रेस ने सदी के महानायक अमिताभ बच्चन को ही निशाने पर ले लिया। कांग्रेस के नेता संजय निरुपम ने अमिताभ बच्चन को जीएसटी का ब्रांड एम्बेसडर बनाए जाने को लेकर भड़ास निकाली है। निरुपम ने कहा, “अमिताभ इस देश के सबसे बड़े कलाकार हैं। हम सब उनका सम्मान करते हैं। लेकिन ये जरूरी नहीं कि वे बीजेपी के हर बेवकूफी से भरे काम का हिस्सा बन जाएं।” 

बात इतनी ही होती तो कोई बखेड़ा नहीं बनता, लेकिन मुंबई कांग्रेस के प्रमुख तो धमकी देने पर भी उतर आए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि अमिताभ जीएसटी के ब्रांड एम्बेसडर पद से हट जाएं वरना उन्हें मुश्किलें झेलनी पड़ेंगी। मीडिया से बात करते हुए निरुपम ने कहा कि, “जीएसटी के मौजूदा स्वरूप का विरोध हर जगह हो रहा है, इसमें कई कमियां हैं। ऐसे में अमिताभ अगर इसके ब्रांड एम्बेसडर बने हैं, तो लोगों और व्यापारियों का सारा गुस्सा उन पर ही निकलेगा।”

दरअसल गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) के प्रमोशन के लिए सरकार ने अमिताभ बच्चन को ब्रांड एम्बेसडर बनाया है। उनकी इस बात की चारों तरफ सराहना हो रही है। टैक्स रिफॉर्म को लेकर लोगों के बीच जो भ्रांतियां हैं वो दूर हो रही हैं। अमिताभ बच्चन ने कहा भी है कि मुझे ये कहा गया और मैंने ये कर दिया। यानी एक देशभक्त और एक सधे हुए पेशेवर कलाकार के तौर पर उन्होंने इस काम को किया है। 

केंद्र सरकार के कहने पर अमिताभ बच्चन जीएसटी का प्रमोशन कर रहे हैं। इसके लिए एक 40 सेकंड का वीडियो बनाया गया है, जो काफी लोकप्रिय हो रहा है।

संजय निरुपम शायद इस बात को भूले बैठे हैं कि जीएसटी कानून कांग्रेस की रजामंदी से पारित हुआ है। इतना ही नहीं कांग्रेस शासित कई राज्यों की विधानसभा ने भी इसे पास किया है। लेकिन कांग्रेस कुछ भी हो मोदी का विरोध करेगी, यही सोच कर राजनीति कर रही है। लेकिन कांग्रेस की ये बातें लोगों को अच्छी नहीं लग रही । ट्विटर पर जमकर कांग्रेस नेता के इस बयान की आलोचना हो रही है।

LEAVE A REPLY