Home समाचार मोहम्मद ईशा की नोटबंदी फेल करने की साजिश का खुलासा

मोहम्मद ईशा की नोटबंदी फेल करने की साजिश का खुलासा

620
SHARE

नोटबंदी अभियान फेल करने की मोहम्मद ईशा की एक बड़ी साजिश का खुलासा हुआ है। दिल्ली पुलिस ने संगम विहार एटीएम से 2000 रुपए के जाली नोट निकलने के मामले में 27 साल के मोहम्मद ईशा को गिरफ्तार किया है। मोहम्मद ईशा एटीएम में पैसे डालने वाली कंपनी ब्रिक्स आर्या प्राइवेट लिमिटेड का कर्मचारी है।

संगम विहार एटीएम से 2000 रुपए के चूरन लेबल वाले नोट निकले थे। इन नोटों पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की जगह ‘चिल्ड्रन बैंक ऑफ इंडिया’ के अलावा ‘मैं धारक को 2000 टोकन अदा करने का वचन देता हूं’ लिखा है। मोहम्मद ईशा इन नकली नोटों को संगम विहार, देवली गांव जैसे निम्न मध्यम वर्ग बहुल इलाकों में खपाने की फिराक में था। ईशा 50 से ज्यादा चूरन वाले नोटों को बदलने की तैयारी में था। उसे लगता था कि यहां के लोग इस बारे में शिकयत नहीं करेंगे। लेकिन एटीएम सीसीटीवी फुटेज की जांच के बाद वह पकड़ में आ गया।

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले का रहने वाला मोहम्मद ईशा ने एटीएम में कैश डालने वाली कंपनी की तरफ से छह फरवरी को एटीएम में दो-दो हजार के 500 नोट डाले थे। इसी दौरान उसने नोटों के बीच पांच चूरन वाले नोट डाल दिए। संयोग से एक लड़के के साथ एक पुलिसकर्मी को भी एटीएम से पैसे निकालते वक्त चूरन वाला नोट मिला। इसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया था।

LEAVE A REPLY