Home नरेंद्र मोदी विशेष गरीबी को एयर कंडीशन कमरों में बैठे लोग नहीं, गरीब ही खत्म...

गरीबी को एयर कंडीशन कमरों में बैठे लोग नहीं, गरीब ही खत्म कर सकते हैं- प्रधानमंत्री मोदी

295
SHARE

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपना संकल्प पत्र जारी कर दिया है। दिल्ली स्थित भाजपा मुख्यालय में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी समेत भाजपा के वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में यह संकल्प पत्र जारी किया गया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी प्राथमिकताओं की चर्चा की। उन्होंने कहा कि पिछले पांच साल तक हमने देश की आवश्यकताओं के मुताबिक काम किया। अब देश की आकांक्षाओं के अनुसार काम करने का समय आने वाला है। 

पीएम मोदी ने कहा, “नब्बे के दशक से ही 21वीं सदी की चर्चा सुनते आए हैं। ऐसा कहा जाता रहा है कि 21वीं सदी एशिया की सदी है। अगर 21वीं सदी एशिया की सदी है तो भारत को उसे लीड करना चाहिए। हमने संकल्प पत्र में बताया है कि वर्ष 2047 में, जब देश आजादी की 100वीं वर्षगांठ मनाए, तब भारत विकासशील देश से आगे बढ़कर विकसित देश की ऊंचाई को छूए।“

पीएम मोदी ने कहा,“हम जब मेनिफेस्टो लेकर आए हैं तो हमारा मंत्र है One Mission, One Direction. हम देश को समृद्ध बनाने के लिए, सामान्य मानवी के सशक्तीकरण के लिए जन भागीदारी को बढ़ाएंगे। लोकतांत्रिक मूल्यों को बढ़ावा देते हुए One Mission, One Direction को लेकर आगे बढ़ेंगे। राष्ट्रवाद हमारी प्रेरणा है, अन्त्योदय हमारा दर्शन है और सुशासन हमारा मंत्र है। वर्ष 2022 में आजादी के 75 साल पूरे होने पर स्वतंत्रता सेनानियों के सपनों का भारत बनाने के लिए हमने संकल्प पत्र में 75 लक्ष्य निर्धारित किए हैं।“

देश के विकास के लिए भारतीय जनता पार्टी की प्राथमिकताओं की चर्चा करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आज देश के कई प्रदेशों में पानी की समस्या के समाधान के बारे में गंभीरता से सोचने की जरूरत है। पानी की समस्याओं को दूर करने के लिए वे एक अलग ‘जल शक्ति मंत्रालय’ बनाएंगे। उन्होंने कहा, “2014 से 2019 तक हमने देशवासियों की आवश्यकताओं को ध्यान में रख कर शासन चलाया। अब सामान्य मानवी की आकांक्षाओं को लेकर हम क्या कर सकते हैं, हमने उसे अपने घोषणापत्र में शामिल किया है। हमें विकास को जन आंदोलन बनाने की जरूरत है और इसका सफल प्रयोग ‘स्वच्छता अभियान’ है। आज स्वच्छता एक जन आंदोलन बन गई है।“

पीएम मोदी ने कहा कि दिल्ली में एयर कंडीशन में बैठे लोग गरीबी को नहीं हरा सकते। गरीब ही गरीबी को परास्त कर सकता है। यही उनका मंत्र है और इसलिए गरीबों के सशक्तीकरण पर उन्होंने बल दिया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “हमारे समाज में विविधताएं हैं। भाषा, जीवन स्तर, शिक्षा आदि की विविधता है। इसलिए, विकास को मल्टीलेयर स्वरूप देने के लिए हमने अपनी योजना को संकल्प पत्र में समाहित किया है। शासन चलाने के लिए कई स्तर और आयामों पर काम करने की जरूरत होती है और हमने अपने संकल्प पत्र में इस पर ध्यान दिया है। हमारा संकल्प पत्र, सुशासन पत्र है। हमारा संकल्प पत्र, राष्ट्र की सुरक्षा का पत्र भी है। हमारा संकल्प पत्र, राष्ट्र की समृद्धि का पत्र भी है।”

Leave a Reply